How to Promote your School Online ? अपने स्कूल का ऑनलाइन प्रचार कैसे करें ?

Promote your School Online
How to Promote your School Online
How to promote your school online
Apne school ka online parchar kaise kren ? Apne school ka online setup kaise kren ?
apne school ka social media pr parchar kaise kren ?
डियर रीडर्स , इन दिनों स्कूलों का सीजन हैं.हर स्कूल ये चाहती है की उसका खूब खूब प्रचार हो.इसके लिए स्कूलों वाले पम्फलेट छपवाकर अख़बारों में डलवा देते हैं,तो कुछ बेनर्स वगैरा बनवाकर लगवा देते हैं.तो कुछ अख़बारों में एड वगैरा देकर अपना प्रचार करवाते हैं.

नतीजा : अख़बार पढने वाले पम्फलेट को ज्यादातर साइड में रखकर न्यूज ही पढना पसंद करते हैं.और ये पम्फलेट ज्यादातर नमकीन की दुकानों में काम आते हैं.राह चलते या वाईकल चलाते हुए लोग बैनर्स वगैरा पर इतना ध्यान नही देते.और न्यूज पढने के लिए अख़बार पढने वाले उसमे दिए गये क्लासिफाइड पर ध्यान नही देते.अख़बारों में दिए गये क्लासिफाइड ज्यादातर बेरोजगार लोग देखते हैं ,ताकि उन्हें कोई जॉब्स वगैरा मिल जाये.कुल मिलाकर ये सभी तरीके कारगर साबित नही होते ,फिर भी स्कूलों वाले इनमे लाखों रूपए खर्च कर देते हैं.बिजनेस मिलेगा या सही प्रचार होगा इस बात की गारंटी कोई भी अख़बार नही देता.

ये सभी तरीके आउटबाउंड मार्केटिंग के हैं ,जो की अब पुराने हो चुके हैं.आज का युग एक डिजिटल युग है.आज हर हाथ में मोबाईल है ,युवा कंप्यूटर और इंटरनेट यूज करते नज़र आते हैं.हर दूसरा तीसरा युवा सोशल मिडिया पर सारा सारा दिन लगा हुआ नज़र आता है.ऐसे में उन्हें समाचार पत्रिका पढने का भी समय नही होता.वो अपने फेसबुक ,गूगल प्लस ,ब्लॉग ,वाट्स अप वगैरा पर ही मग्न रहते हैं.यहाँ आने वाली हर छोटी से छोटी खबर को भी वो क्लिक करके पढ़ते नज़र आते हैं.कहने का मकसद ये है की आज आउट बाउंड मार्केटिंग से ज्यादा ऑनलाइन मार्केटिंग बिजनेस सफल हैं.उनमे रोजाना लाखों कस्टमर्स आते हैं.और ऑफ़ लाइन मार्केटिंग वाले रोजाना कुछ ही ग्राहकों के दर्शन कर पाते हैं.

आज भारत में डिजिटल युग चल रहा है ,ऐसे में आउट बाउंड मार्केटिंग में रूपए खर्च करना अजीब सा लगता है.यहाँ तक की भारत के प्रधानमन्त्री भी ऑनलाइन सक्रिय हैं ,हर एक राजनितिक पार्टी ऑनलाइन अपना प्रचार प्रसार करती नज़र आ रही है.इसके बावजूद भी हमारे देश में चलने वाले स्कूल्स ऑनलाइन नही हो पाते.
हर प्रोफेशनल स्कूल को डिजिटल हो

ना बहुत ही जरुरी होता है.जब स्कूल डिजिटल होगा ,ऑनलाइन होगा तभी लोगों तक उसकी पहुँच बन सकेगी.और ऑनलाइन भी उसकी एक अलग पहचान बनेगी.इससे स्कूल का स्टैंड भी मजबूत होगा.और स्कूल की सभी सुविधाओं और रिजल्ट वगैरा के बारे में लोगों को ऑनलाइन भी पता चलेगा.जब लोग ऑनलाइन उस स्कूल के बारे में जानकारी रखेंगे उसके बारे में पढेंगे तब जाकर उसकी माउथ पब्लिकसिटी भी करेंगे.एक दुसरे को अपने बच्चों को उस स्कूल में एडमिशन दिलवाने की राय भी देंगे.अगर स्कूल इसी तरह गुमनामी में चलते रहे ,जिनका ऑनलाइन कोई वजूद ही नही है ,तो उनके स्कूल्स किस तरह अधिक से अधिक लोगों तक पहुँच पायेंगे.

स्कूल को प्रोफेशनल कैसे बनाएं ?

हर एक प्रोफेशनल स्कूल के लिए उसका ऑनलाइन वजूद होना जरुरी है.स्कूल की अपनी एक प्रोफेशनल वेबसाइट हो जहाँ स्कूल की हर एक एक्टिविटीज को अपडेट किया जाता रहे.उस वेबसाइट पर स्कूल के बारे में सभी जानकारियां हों.स्कूल की सभी सुविधाओं और रिजल्ट वगैरा के उल्लेख किये गये हों.और इसके साथ ही स्कूल के फोटोज वगैरा भी हों.स्कूल में पढने वाले बच्चों के पेरेंट्स के फीडबेक भी वेबसाइट पर हों.इससे वेबसाइट को विजिट करने वाले पर एक खास असर पड़ता है.इसके साथ ही स्कूल की वेबसाइट और डिटेल्स गूगल और बिंग वगैरा जैसे सर्च इंजन्स पर भी आयें.जब भी कोई उस स्कूल के बारे में लिख कर गूगल पर सर्च करे तो गूगल उस स्कूल की वेबसाइट ,एड्रेस ,फोन नंबर ,वगैरा जैसी सारी डिटेल्स शो करे.तब जाकर आपकी स्कूल का ऑनलाइन वजूद होगा.और एक पहचान बनेगी.

सोशल मिडिया पर सक्रियता

आज के इस डिजिटल युग में सोशल मिडिया यूजर्स की संख्या का अंदाजा लगाना बहुत ही मुश्किल है.इसलिए स्कूल को प्रोफेशनल बनाने के लिए हर एक सोशल मिडिया पर उसके प्रोफाइल बनाना बहुत ही जरुरी है.प्रोफाइल बनाने के साथ साथ उसे अपडेट भी रखें.और सोशल मिडिया पर अपने स्कूल की वेबसाइट का भी प्रचार करते रहें,ताकि सोशल मिडिया से ज्यादा से ज्यादा लोग आपकी स्कूल की वेबसाइट को विजिट करें.जब विजिट करेंगे तभी तो उनको आपके स्कूल के बारे में सब कुछ पता चलेगा.

ऑनलाइन कैम्पेन क्या हैं और इनसे क्या फायदे हैं ?

आज के डिजिटल युग में किसी भी बिजनेस के ऑनलाइन प्रचार को ऑनलाइन कैम्पेन कहा जाता है.ऑनलाइन प्रचार सोशल मिडिया और गूगल वगैरा पर किया जाता है.ये एक पेड सर्विस होती है ,जब हम गूगल और फेसबुक को रूपए पे करते हैं तो ये हमारे बिजनेस के एड को लोकल एरिया के लोगों की प्रोफाइल तक पहुंचा देते हैं.जब वो लोग उस एड पर क्लिक करते हैं तो सीधे हमारे बिजनेस की वेबसाइट पर पहुँच जाते हैं.जहाँ उन्हें हमारे बिजनेस के बारे में सभी जानकारियां मिल जाती हैं.अब उसके बाद अगर वे हमसे संपर्क करना चाहें तो हमसे अपने नाम ईमेल आईडी और फोन नंबर शेयर करते हैं.

इस तरह ऑनलाइन मार्केटिंग का मकसद यही होता है की लोकल एरिया के लोग हमसे अपनी इन्फोर्मेशन शेयर करें.जब वो हमारी वेबसाइट पर हमसे अपनी इन्फोर्मेशन शेयर करते हैं ,तो उनकी इन्फोर्मेशन हमे ईमेल के द्वारा मिल जाती है.अब सारा खेल हम पर है ,अगर हम उन्हें फोन करके या ईमेल करके संतुष्ट करने में कामियाब हो जाते हैं ,तो वे हमारे कस्टमर्स बन जाते हैं.और हर एक एक को जोड़ता है ,इस कहावत की तरह हमे आगे से आगे बिजनेस मिलता रहता है.बिलकुल इसी तरह स्कूलों के लिए भी ऑनलाइन कैम्पेन बेहद फायदेमंद हैं.

ऑनलाइन कैम्पेन की बदोलत ही मिस्र और भारत की सरकारें बदल गयी ,ऑनलाइन कैम्पेन के जरिये ही दिल्ली में आम आदमी की सरकार बन गयी.इससे भी आप अंदाजा लगा सकते हैं की हमारे देश में कितने ज्यादा लोग ऑनलाइन सक्रिय रहते हैं.हर एक अच्छा सेल्समैन अपने माल और प्रोडक्ट को वहीँ पर बेचना पसंद करता है जहाँ ज्यादा कस्टमर्स मिलें.आज ज्यादातर लोग ऑनलाइन हैं तो ऑनलाइन प्रचार करने वालों को फायदे कैसे नही मिलेंगे.

इसलिए अगर आप स्कूल चलाते हैं तो स्कूल का प्रोफेशनली सेटअप करें.और ऑनलाइन उसकी एक अलग पहचान बनाएं.जब आपकी स्कूल की एक अलग पहचान बनेगी तो बिजनेस आज नही कल आपको जरुर मिलेगा.और हर एक बिजनेस इन्वेस्ट मांगता है.बिना किसी इन्वेस्ट के कभी भी प्रोफेशनली सेटअप नही हो सकता.ऑनलाइन सेटअप ,और ऑनलाइन कैम्पेन ,ऑनलाइन प्रचार वगैरा का खर्च मेरी जानकारी के हिसाब से उससे कहीं गुना कम है ,जितना स्कूल्स वाले अख़बारों और पम्फलेट और बेनर्स में खर्च कर देते हैं.इसलिए आज के युग के हिसाब से चलिए.और अपने स्कूल को डिजिटल बनाइए.उसकी ऑनलाइन एक पहचान बनाइए.और अपने स्कूल के लोकल एरिया क्षेत्र में ऑनलाइन प्रचार करवाइए.फिर देखिये की शायद ही कोई ऐसा हो जो की आपके स्कूल से परिचित न हो.फिर आपको उसका फायदा लम्बे समय तक मिलता रहेगा.

ऑनलाइन सेटअप एक ही बार करवाना पड़ता है ,उसके बाद तो बस आप उसे अपडेट करते रहिये,और हर साल एडमिशन के दिनों में ऑनलाइन प्रचार करते रहिये.सोशल मिडिया वगैरा पर कैम्पेन चलाते रहिये.आपको पम्फलेट और बेनर्स की कभी जरुरत ही नही पड़ेगी.और सारा साल आपका ऑनलाइन प्रचार भी चलता रहेगा.

इन्फो टैक हिंदी ऑनलाइन सेटअप सर्विस

आर्टिकल में जितनी भी बातों का मैंने जिक्र किया है ,इसे ऑनलाइन सेटअप भी कहा जाता है.जैसा की आप पहले भी पढ़ चुके हैं की इन्फो टैक हिंदी ऑनलाइन एकेडमी भी बिजनेस के ऑनलाइन सेटअप की सर्विस प्रोवाइड करती है.इसमें हम उपरोक्त सभी कार्य करते हैं.इन दिनों हम स्कूल्स के ऑनलाइन सेटअप और ऑनलाइन मार्केटिंग की सर्विस भी लाइव कर रहे हैं.आप चाहें तो अपने स्कूल का ऑनलाइन सेटअप करवाकर उसका अपने स्कूल के लोकल एरिया में ऑनलाइन कैम्पेन के जरिये प्रचार करवा सकते हैं.इससे आपके स्कूल का प्रचार आपके एरिये के सभी ऑनलाइन यूजर्स तक पहुंचेगा.और अभी एडमिशन के दिनों में आपको काफी फायदा भी होगा.और इसके साथ ही पूरे साल आपका ऑनलाइन सेटअप इंटरनेट पर आपकी स्कूल की एक अलग पहचान बना देगा.

ऑनलाइन सेटअप सर्विस और कैम्पेन

इन्फो टैक हिंदी आपके स्कूल के ऑनलाइन सेटअप और ऑनलाइन प्रचार की गारंटी लेती है ,मगर इस बात की गारंटी न अख़बार लेते हैं ,न पम्फलेट ,और न एड ,और न ही हम ,की आपको इन सभी के बाद बिजनेस मिलेगा.हमारा काम कोशिश करना है उसमे कोई कमी नही रखी जाएगी.पर बिजनेस मिलेगा ,इस बात की हमारी कोई जिम्मेदारी नही रहती.ये सब आप पर निर्भर करता है की आप ऑनलाइन आने वाली इन्क्वेरी को कितना फोलो करते हैं.और कितने लोगों को संतुष्ट करने में कामियाब रहते हैं.

ऑनलाइन सेटअप और ऑनलाइन कैम्पेन ये सभी आज के डिजिटल प्रचार के तरीके हैं.इनसे ऑनलाइन खूब खूब प्रचार किया जा सकता है.इन्फो टैक टीम आपके प्रचार की पूरी जिम्मेदारी ले सकती है.मगर बिजनेस के लिए आपको ही रिस्क लेना पड़ता है.
देश में कई राजनितिक पार्टियों ने भी काफी ऑनलाइन कैम्पेन चलाये ,और खूब ऑनलाइन प्रचार करवाया ,लेकिन किसी भी डिजिटल मार्केटिंग कम्पनी ने इन्हें मुख्य मंत्री या प्रधानमंत्री बनाने की गारंटी नही दी थी.ये सभी इनका अपना रिस्क ही था.डिजिटल मार्केटिंग कम्पनी सिर्फ ऑनलाइन सेटअप और प्रचार तक का कार्य ही संभालती है.बिजनेस मिलना या न मिलना ये स्कूल्स का अपना रिस्क रहता है.लेकिन आपकी ऑनलाइन पहचान तो जरुर बन जाएगी.जिसका शायद आपको आगे चलकर फायदा मिले.

आप भी अगर स्कूल चलाते हैं ,और अपनी स्कूल का ऑनलाइन सेटअप करवाना चाहते हैं ,और उसके लिए ऑनलाइन कैम्पेन चलाना चाहते हैं ,उसकी ऑनलाइन एक अलग पहचान बनाना चाहते हैं तो इन्फो टैक की ये सर्विस आपके लिए ही है.आप जब चाहे हमसे सम्पर्क कर सकते हैं.

इसके लिए आप अपनी स्कूल के बारे में हमे सभी जानकारियां दें ,और अगर स्कूल की प्रोफाइल्स वगैरा बनी हुई है तो वो भी भेजें.सभी डिटेल्स चेक करने के बाद ही हम आपको आपके स्कूल के बारे में सही राय दे सकेंगे.और उसके ऑनलाइन सेटअप और वर्क के बारे में आपसे डिस्कस कर सकेंगे.आप जब चाहें हमे कॉल कर सकते हैं.हम हर समय आपकी सहायता के लिए हर समय तैयार हैं.



Info Tech Hindi Online Services  


Aamir Ali 







Email : aamir2692@gmail.com 


Mobile No.: + 91 9610945628 




How to Promote your School Online ? अपने स्कूल का ऑनलाइन प्रचार कैसे करें ? How to Promote your School Online ? अपने स्कूल का ऑनलाइन प्रचार कैसे करें ? Reviewed by Info Tech Hindi on 9:42:00 am Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

Agr aapko ye post pasand aayi to apni keemti raay niche comments box me jarur likhen.

Comment Box me koi bhi Link share karna allow nhi hai.yahan koi bhi apne blog post ya ads vgaira ke link ya comments na kre.

Recent Posts

Blogger द्वारा संचालित.